Top Bewafa Sad Shayari In Hindi 2022 For WhatsApp/Facebook

As you know, it’s clear by the name that this article is about Bewafa Shayari in Hindi. We all surely meet people who may hurt us in life with their behavior or attitude. Sometimes there is a type of person who becomes very sweet to us. They pretend to a sweet and pure-hearted people. In actuality, they may not be sweet. They make plans about how they will get revenge on us. Such types of people become a reason of worriedness for us. We feel ourself broken and want to share our feelings don’t we will help you. You can share your feelings.

Bewafa Shayari in Hindi

We have mentioned Bewafa Shayari in Hindi here.

Bewafa Shayari in Hindi

.
हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हमको जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला।
Hamein Na Mohabbat Mili Na Pyar Mila,
Humko Jo Bhi Mila Bewafa Yaar Mila,
Apni To Ban Gayi Tamasha Zindagi,
Har Koyi Maksad Ka Talabgaar Mila.

.
हमसे न करिये बातें यूँ बेरुखी से सनम,
होने लगे हो कुछ-कुछ बेवफा से तुम।
Humse Na Kariye Baatein Yoon Berukhi Se Sanam,
Hone Lage Ho Kuchh-Kuchh Bewafa Se Tum.

.
तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।
Tera Khayal Dil Se Mitaya Nahi Abhi,
BeWafa Maine Tujhko Bhulaya Nahi Abhi.

.
तूने ही लगा दिया इलज़ाम-ए-बेवफाई,
अदालत भी तेरी थी गवाह भी तू ही थी।
Tu Ne Hi Laga Diya ilzaam-e-Bewafai,
Adalat Bhi Teri Thi Gawaah Bhi Tu Hi Thi.

.
सीख कर गया है वो मोहब्बत मुझसे,
जिस से भी करेगा बेमिसाल करेगा।
Seekh Kar Gaya Hai Wo Mohabbat Mujhse,
Jis Se Bhi Karega Be-Misaal Karega.

.
हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।
Har Bhool Teri Maaf Ki
Teri Har Khata Ko Bhula Diya,
Gham Hai Ki Mere Pyar Ka
Tu Ne Bewafai Sila Diya.

.
आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार में तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

Aap Bewafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Aap Kabhi Khafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Jo Geet Likhe The Kabhi Pyar Mein Tere,
Wahi Geet Ruswa Honge Socha Hi Nahi Tha.

.
पहले इश्क फिर धोखा फिर बेवफ़ाई,
बड़ी तरकीब से एक शख्स ने तबाह किया।

Pehle Ishq Fir Dhokha Fir Bewafai,
Badi Tarkeeb Se Ek Shakhs Ne Tabaah Kiya.

.
मुझे शिकवा नहीं कुछ बेवफ़ाई का तेरी हरगिज़,
गिला तो तब हो अगर तूने किसी से निभाई हो।
Mujhe Shiqwa Nahi Kuchh Bewafai Ka Teri Hargij,
Gila To Tab Ho Agar Tu Ne Kisi Se Nibhai Ho.

.
तेरी तो फितरत थी सबसे मोहब्बत करने की,
हम बेवजह खुद को खुशनसीब समझने लगे।
Teri To Fitrat Thi Sabse Mohabbat Karne Ki,
Hum Bewajah Khud Ko KhushNaseeb Samjhne Lage.

.
कैसी अजीब तुझसे यह जुदाई थी,
कि तुझे अलविदा भी ना कह सका,
तेरी सादगी में इतना फरेब था,
कि तुझे बेवफा भी न कह सका।

Kaisi Ajeeb Tujhse Ye Judaai Thi,
Ki Tujhe Alvida Bhi Na Keh Saka,
Teri Saadgi Mein Itna Fareb Tha,
Ki Tujhe Bewafa Bhi Na Keh Saka.

.
जब तक न लगे एक बेवफाई की ठोकर,
हर किसी को अपने महबूब पे नाज़ होता है।
Jab Tak Na Lage Ek Bewafai Ki Thhokar,
Har Kisi Ko Apne Mahboob Pe Naaz Hota Hai.

.
फूलों के साथ काँटे नसीब होते हैं,
ख़ुशी के साथ ग़म भी नसीब होता है,
यूँ तो मजबूरी ले डूबती हर आशिक को,
वरना खुशी से बेवफ़ा कौन होता है?

Phool Ke Sath Kaante Bhi Naseeb Hote Hai,
Khushi Ke Sath Gham Bhi Naseeb Hota Hai,
Yoon To Majboori Le Doobti Hai Har Aashiq Ko,
Varna Khushi Se Bewafa Kaun Hota Hai?

.
इतनी मुश्किल भी ना थी राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ कुछ वो बेवफा हो गए।
Itni Mushkil Bhi Na Thi Raah Meri Mohabbat Ki,
Kuchh Zamana Khilaaf Hua Kuchh Wo Bewafa Ho Gaye.

.
उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा,
दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है।
Usne Mahboob Hi To Badla Hai Fir Tajjub Kaisa,
Dua Kabool Na Ho To Log Khuda Tak Badal Dete Hain.

.
Uss Ne Jee Bhar Ke Mujhko Chaha Tha,
Fir Hua Yoon Ki Uska Jee Bhar Gaya.
उसने जी भर के मुझको चाहा था,
फ़िर हुआ यूँ के उसका जी भर गया।

.
उसकी बेवफाई पे भी फ़िदा होती है जान अपनी,
अगर उस में वफ़ा होती तो क्या होता खुदा जाने।
Uski Bewafai Pe Bhi Fida Hoti Hai Jaan Apni,
Agar Usme Wafa Hoti To Kya Hota Khuda Jaane.

.
चाहते हैं वो हर रोज नया चाहने वाला.
ऐ खुदा मुझे रोज इक नई सूरत दे दे।
Chahte Hain Wo Har Roj Naya Chahne Wala,
Ai Khuda Mujhe Roj Ik Nayi Soorat De De.

.
वफ़ा के नाम से मेरे सनम अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला,
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे।

Wafa Ke Naam Se Mere Sanam Anjaan The,
Kisi Ki Bewafai Se Shayad Pareshan The,
Humne Wafa Deni Chahi To Pata Chala,
Hum Khud Bewafa Ke Naam Se Badnaam The.

.
काम आ सकीं न अपनी वफायें तो क्या करें,
उस बेवफा को भूल ना जाएं तो क्या करें।
Kaam Aa Saki Na Apni Wafayein To Kya Karein,
Uss Bewafa Ko Bhool Na Jaayein To Kya Karein.

Bewafa Dost Shayari in Hindi

We’ve all met people who realise they deserve to be called Bewafa at some point in their lives. They pretend to be true friends, but in reality, we realise they are cheating on us. They are still unknown as to how their actions cause us pain. We will provide you with words in the form of Bewafa Dost Shayari in Hindi

Bewafa Shayari in Hindi

.
Mere pyare mitra honhaar ho
Gaye hai
Badalne ka hunar sikh liya
Hai unhone

मेरे प्यारे मित्र होनहार हो
गए है
बदलने का हुनर सिख लिया
है उन्होंने।

.
Aab dosto ke dilo mee
Dosti ke phool nahi khilte
Dil mee nafrat liye haskar milte hai

अब दोस्तो के दिलो में
दोस्ती के फूल नहीं खिलते
दिल में नफ़रत लिए हसकर मिलते हैं।

.
Mere bure samay mee kuch dost
Meri kamiya gina rahe hai
Hokar matlabi ve dusro se dosti
Nibha rahe hai..!

मेरे बुरे समय में कुछ दोस्त
मेरी कमिया गिना रहे हैं
होकर मतबी वे दुसरो से दोस्ती
निभा रहे हैं।

.
Uske bure waqt mein
Maine uska saath diya aur
Jab uski baari aayi toh usne
Saath dene se saaf mana kar diya

उसके बुरे वक्त में
मैने उसका साथ दिया और
जब उसकी बारी आई तो उसने
साथ देने से साफ़ मना कर दिया।

.
Dil ke zakmo ko bharne do
Abhi aansu nikle hai aur nikalne do
Mat pucho kisne dil dukhaya hai
Warna dosto ke chehre uttar jayenge

दिल के ज़ख्मो को भरने दो
अभी आंसु निकले है और निकलने दो
मत पूछो किसने दिल दुखाया है
वरना दोस्तो के चहरे उतर जाएंगे।

.
Ghamand tha mujhe bohot
Tujh jaise jigri yaar par
Magar usne dhoka diya mujhe
Vishwas tha jis gaddar par

घमंड था मुझे बोहोत
तुझ जैसे जिगरी यार पर
मगर उसने धोका दिया मुझे
विश्वास था जिस गद्दार पर।

.
Usne saare rishte tod diye
Pata nahi naraz kis baat se tha
Sabse jyada karib tha wo mere aur
Waakif wo mere har ek jazbaat se tha

उसने सारे रिश्ते तोड़ दिए
पता नहीं नराज किस बात से था
सबसे ज्यादा करीब था वो मेरे और
वाकिफ वो मेरे हर एक जज्बात से था।

.
Kis par bharosa kare hame
Kuch Samajh mee nahi aata
Hame aata hai dosti nibhana
Magar dhoka dena nahi aata.!

किस पर भरोसा करे हमें
कुछ समझ में नहीं आता
हमें आता है दोस्ती निभाना
मगर धोका देना नहीं आता।

.
Dard kum hota hai maikhaane ke
Zaam se
Nafrat se ho gayi hai muhe dosti ke
Naam  se

दर्द कम होता है मैखाने के
जाम से
नफ़रत से हो गई है मुझे दोस्ती के
नाम से।

.
Jo dost jhoote pyar ke khaatir
Apne jigari yaar ko choud dete hai
Wo kabhi kisi se wafa nhi kar sakte

जो दोस्त झूठे प्यार के खातिर
अपने जिगरी यार को छोड़ देते हैं
वो कभी किसी से वफ़ा नहीं कर सकते।

.
Aab aur kisi par
Aitbaar nahi hota
Jabse maine dosto ka
Asli chehra dekha hai
Kasam se apne chehre se
Bhi mujhe nafat hone lagi hai

अब और किसी पर
ऐतबार नहीं होता
जबसे मैंने दोस्तो का
असली चेहरा देखा है
कसम से अपने चेहरे से
भी मुझे नफत होने लगी है।

.
Jo dosti ki badi badi baat karte the
Aaj wo nazar milaye begair hi
Nazdik se nikal jaatein hain.!

जो दोस्ती की बड़ी बड़ी बात करते हैं
आज वो नज़र मिलाए बगैर ही
नज़दिक से निकल जाते हैं।

.
Dosti nibhai tune aise
Phir koi sacha dost naa laga
Aur jab tune dhoka diya uske baad
Mujhe koi aur sacha dushman naa laga..!

दोस्ती निभाई तूने ऐसे
फिर कोई सच्चा दोस्त ना लगा
और जब तूने धोका दिया उसके बाद
मुझे कोई और सच्चा दुश्मन ना लगा।

.
Saamne aate hi dost dost kehte hai
Warna nafrat itni hai dil mee ki
Barbad karne ki soch rakhte hai

सामने आते ही दोस्त दोस्त कहते हैं
वरना नफ़रत इतनी है दिल में कि
बरबाद करने की सोच रखते हैं।

.
Gairo ke saamne ache aur
Dil mee hum kharab ho gaye
Kya kare kuch log aise hi hote hai
Aese dost zindagi mee behisab ho gaye

गैरो के सामने अच्छे और
दिल में हम खराब हो गए
क्या करे कुछ लोग ऐसे ही होते हैं
ऐसे दोस्त जिंदगी में बेहिसाब हो गए।

.
Hame dost banane ka aur
Dosti nibhaane ka bohot shouk tha
Jabse tera asli roop dekha hai
Kasam se apne bhi paraye se lagte hai

हमें दोस्त बनाने का और
दोस्ती निभाने का बोहोत शोक था
जबसे तेरा असली रूप देखा है
कसम से अपने भी पराए से लगते हैं।

.
Baat buri jarur lagegi
Kyoki mai sach hi kehta hu
Bewafa dosto ki basti se
Mai thoda dur hi rehta hu.!

बात बुरी जरूर लगेगी
क्योकी मैं सच ही कहता हूं
बेवफा दोस्तो की बस्ती से
मैं थोड़ा दूर ही रहता हूं।

.
Bewafa dosto ki baatein bohot
Achi aur sachi lagti hai aur jab
Ehsaas hota hai ki kya kar diya
Phir wo sath bhi nahi dete hai

बेवफा दोस्तो की बातें बोहोत
अच्छी और सच्ची लगती है और जब
एहसास होता है की क्या कर दिया
फिर वो साथ भी नहीं देते है।

.
Dosti duniya ka ek
Dhikhawa hai
Dhoka jarur milega ye
Mera dawa hai.!

दोस्ती दुनिया का एक
दिखावा है
धोका जरूर मिलेगा ये
मेरा दावा है।

.
Duniya mee khudgarz log bohot
Mil jaayenge
Apna maksud pura hote hi akele
Choud jaayege

दुनिया में खुदगर्ज लोग बोहोत
मिल जाएंगे
अपना मकसूद पुरा होते ही अकेले
छोड़ जाएंगे।

Bewafa Sad shayari in Hindi

When anyone cheats on us, we become sad automatically and want to share our feelings. We will help you by giving Bewafa Sad Shayari in Hindi.

Bewafa Shayari in Hindi

.
सारी चाहते तेरे लिए

सारे गम मेरे लिए

मेरे हिस्से की तू अधूरी कहानी थी

मैं प्यार का राजा तू बेवफाओ की रानी थी

.
जिंदगी में रुसवाई कर गईमोहब्बत में बेवफाई कर गईमैने सदियों तक उसे चाहावो किसी और के साथ गुजर गया

.
सौ हिस्से मेरे होतब भी हर हिस्से में मुझे पायेगी वोवफ़ा की दीवार हूं मैंबेवफा कब तक सितम जाएगी वो

.
किस्से हमारे साथ के कम ना होंबेवफा प्यार में हम ना थेतुम दिल तोड़ दिया था मेरातुम्हारा दिल हम तोड़तेइतने कामज़ोर हम ना थे

.
गम तुम्हारा था जी हमने लियाकसम तुम्हारी थीपूरा हमने कियामोहब्बत दोनो की थीबेवफाई तुमने की वफ़ा हमने किया

.
मोहब्बत की कहानी बेवफा हो तोइश्क भी उतना सच्चा होता हैमोहब्बत अधूरी है तो क्या हुआएक तरफ़ा आशिक भी बेवफ़ा नहीं होता है

.
तू बेवफा ना होती तो मैं शायर ना होतामेरे अहसासों को शब्दों में ना पिरोताजो तू होती तोना मेरी कलम होती ना मैं होता

.
पहली बार है दोबारा नहीं खून है मेरा फवारा नहींसभी चोट पहुंचाते हैं मेरे दिल कोमेरा दिल है कोई बाज़ारा नहीं

.
साथ छोड़ देंगे तो कहां जाओगेमेरे साथ तो ना पाओगे तो किसे अपनाओगेदूसरा तुम्हारा दिल न रख पाया तोक्या फिर मेरे पास आ जाओगे

.
हसीन चेहरा बेवफाई दिखाता हैझूठे प्यार का एहसास दिलाता हैहर वक्त जो दर्द देवो ही क्या सच्चा प्यार कहलाता है

.
यूँ ही वो इतना जुल्म दिए जा रहे हैंकोई इल्ज़ाम तो लगा दीजियेकभी मोहब्बत हुआ करते थे दुश्मन नहीं कोई तो एक बार याद दिला दीजिए

.
तेरा साथ छूट जानातेरा मुझसे रूठ जानाहर वक्त तेरी कमी का अहसास आनामेरी ज़िंदगी को तेरा वीरान बनाना

.
तुम्हारा साथ छोड़ देंगेतुमको खुद से तोड़ देंगेतुम्हारी यादें कर देंगे दफातुम्हारी यादों से मुह फेर लेंगे

.
जिंदगी आशाओं का नाम हैयहां पर सिर्फ झूठों का काम हैजो शक्स दो नाकाम रखे चेहरे पेबस उसी का इस दुनिया में नाम

.
प्यार एक तरफ़ा हो तो अक्सर टूट जाता हैहर वक्त एक कमी का एहसास दिलाता हैतुम पास रहो या दूर फ़र्क नहीं पड़तातुम्हारी यादों का लम्हा हर वक्त छू जाता है

.
सच कहूं तो प्यार को तोड़ दोतेरा चेहरा ना देखूंतेरे चेहरे से मुंह मोड़ लूंतुझे ना चाहूँ एक पल भीतेरी यादें तेरे हवाले छोड़ दूँ

.
बादलों ने गरजना छोड़ दिया बारिशों ने बरसना छोड़ दिया आप तो हमको भूल गए इसीलिए हमने भी आपके लिए तरसना छोड़ दिया

.
तेज़ी से वक़्त जा रहा था मेरा दिल मुझे सता रहा था जो मुझसे अनजाने में गलती हुई उसको सोचकर बहुत पछता रहा था

.
मेरा साथ तुझे ना भायामेरे हिस्से का है तू अटूट सायातू रहे या नहीं मेरे साथफिर भी है तू मुझ में समाया

.
Zara Si Mohbbat Mile To Bata DenaIse Wafa Se Milana HaiJise Mukammal Mohabbat Pana HaiUse Iski Bewafayi Batana Hai

Conclusion

We have given you a huge and unique piece of content about Bewafa Shayari in Hindi. You can share it with your bewafa friends. This may cause your friend to realize his/her error and come to you to apologize.

Also check out:

Punjabi Status for girls.

Dosti Shayari in Hindi.

Broken Heart Shayari in Hindi.

Alone Shayari in Hindi.

Leave a Comment